दि एक्सपेरिमेंटल थिएटर फाउंडेशन प्रस्तुति “गर्भ”



दि एक्सपेरिमेंटल थिएटर फाउंडेशन
प्रस्तुति
गर्भ
(हिंदी नाटक)
नाटक मानव जाति के संघर्ष और मानवता के साथ विशद जानकारी देता है.नाटक एक मानवीय जीवन जीने की चुनौतियों के साथ संबंधित है. प्लॉट आसानी से मानव मनोविज्ञान और अदृश्य कोकून के अस्तित्व  पर सवाल है जो हम में से हर एक के आसपास राष्ट्रवाद, नस्लवाद, धर्म, जाति, प्रणाली द्वारा बुना जाता है
लेखन एवं निर्देशन : मंजुल भारद्वाज
२८ फेब्रुअरी  ,२०१ शाम ५.३०
मिनी थिएटर ( रवीन्द्र नाट्य मंदिर ) प्रभादेवी, दादर ( पश्चिम ) , मुंबई -२५
संगीत : नीला भागवत
कलाकार : अश्वनी नांदेडकर , सायली पावसकर  और अन्य

Comments

Popular posts from this blog

“थिएटर ऑफ़ रेलेवंस” नाट्य सिद्धांत पर आधारित लिखे और खेले गए नाटकों के बारे में- भाग - 5.. आज का नाटक है “मैं औरत हूँ!”

“तत्व,व्यवहार,प्रमाण और सत्व” की चतुर्भुज को जो साधता है वो है...क्रिएटर” – मंजुल भारद्वाज (रंग चिन्तक )

“थिएटर ऑफ़ रेलेवंस” नाट्य सिद्धांत पर आधारित लिखे और खेले गए नाटकों के बारे में- भाग - 3.. आज का नाटक है “द्वंद्व”